Friday, 20 July 2007

रविवार २२ जुलाई २००७ को ऑनलाइन ब्लॉगर मीट

सभी साथियों को सूचित किया जाता है कि आने वाले रविवार यानि 22 जुलाई 2007 को पहली आधिकारिक ऑनलाइन ब्लॉगर भेंटवार्ता आयोजित की जा रही है। वार्ता सुबह ११ बजे आरंभ होगी, समाप्त होने का कोई समय (फिलहाल) निर्धारित नहीं है। हाल ही में गूगल टॉक पर हुई भेंटवार्ता में इस बारे विचार हुआ था, तब से इस हेतु योजना बनाई जा रही थी। ऐसा तय हुआ कि नियमित रुप से (साप्ताहिक) ऑनलाइन ब्लॉगर भेंटवार्ताएँ आयोजित होनी चाहिए ताकि जो साथी चिट्ठाकार मिलनों के लिए कहीं जा नहीं सकते वे इन में भाग ले सकें। इसी कड़ी में यह पहली भेंटवार्ता होने जा रही है।

यह वार्ता याहू मैसेंजर पर संपन्न होगी। इसमें भाग लेने हेतु आपके पास याहू आईडी होनी चाहिए, यदि आपके पास याहू पर मेल अकाऊंट है (अधिकतर के पास होता है) तो आप उसका याहू आईडी के रुप में प्रयोग कर सकते हैं। यदि नहीं है तो आप याहू मेल की साइट पर जाकर पाँच मिनट में बना सकते हैं।

याहू मैसेंजर पर हिन्दी (देवनागरी) में टाइप करने के लिए आपको Indic IME की आवश्यक्ता है, इस पर बरहा तथा कुछ अन्य टूल काम नहीं करते। इसके अतिरिक्त IndiChat नामक मैसेंजर प्लगइन का भी प्रयोग किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए परिचर्चा पर यह सूत्र देखें।

इस वार्ता में भाग लेने के लिए अपना याहू आईडी sharma.shrish [AT] gmail.com तथा ved.sanju [AT] gmail.com पर मेल करें तथा रविवार ११ बजे सुबह याहू मैसेंजर पर ऑनलाइन हो जाएँ। आपको कॉन्फ्रैंस रुम में जोड़ लिया जाएगा।

नोट: कृपया अपना मेल पता/आईडी इस पोस्ट पर टिप्पणी में न देकर मेल द्वारा ही भेजें।

इसके अतिरिक्त वॉइस कॉन्फ्रैंस का भी विचार है। इसके लिए आपको केवल एक हैडफोन (माइक+इयरफोन) की आवश्यकता है। एक सस्ता सा हैडफोन ५० से १०० रुपए के बीच में आ जाता है। हाँ डायलअप अकाऊंट पर वॉइस चैट अच्छी नहीं चलती। वॉइस चैट के लिए आपके पास याहू मैसेंजर का US संस्करण होना चाहिए, India वाले संस्करण में इसका विकल्प नहीं है। US संस्करण का डाउनलोड लिंक नीचे दिया है।

याहू मैसेंजर डाउनलोड (९.९५ एमबी)

कोई प्रश्न हो तो टिप्पणी द्वारा पूछ सकते हैं।

-- श्रीश शर्मा, संजीत त्रिपाठी

3 comments:

परमजीत बाली said...

नयी जानकारी के लिए धनयवाद।

Sanjeeva Tiwari said...

चलिए देखते हैं श्रीश भाई 700 लोगों की भीड जुटेगी तो कैसे बातें हो पायेंगी, हम तो चैट फील्‍ड में नयें हैं हमारे जैसे और कई नये लोग होंगें । एक बात का फायदा तो होगा कि हम आनलाईन रह कर सबकी बातें सुन सकेंगें ।

Srijan Shilpi said...

बढ़िया विचार है। समय पर ऑनलाइन हो जाएंगे। बातचीत के प्रमुख बिन्दु तैयार कर लीजिए, अन्यथा मॉडरेट करने में असुविधा होगी।

वैसे, हाल ही में Yoomba.com ने यह सुविधा प्रदान की है कि आप चाहे किसी भी मेल अथवा मेसेंजर सर्विस का प्रयोग करते हों, उसी का प्रयोग करते हुए अपने यूंबा एकाउंट के जरिए अलग-अलग मेल सर्विस का प्रयोग करने वाले दोस्तों के साथ वॉयस चैट अथवा ग्रूप चैट कर सकते हैं। इस तरह सभी साथी अपने-अपने वर्तमान ई-मेल आईडी द्वारा भी इस ग्रूप चैट में भाग ले सकते हैं। यूंबा को संस्थापित करने के बाद आपको अलग-अलग मेसेंजर को स्थापित करने की जरूरत नहीं रह जाएगी।